Success Story : कभी रिक्शा चलाया आज IIT छात्रों को दे रहे हैं नौकरी खड़ी कर दी करोड़ों की कंपनी

जहां अभी देश में स्टार्टअप कल्चर फल फूल रहा है। वहीं बिहार भी इसमें पीछे नहीं है बिहार में भी कई ऐसे युवा है जो स्टार्टअप करके कई बड़ी कंपनी खड़ा कर चुके हैं।

इसी स्टार्टअप कंपनी के एक फेमस चेहरा है दिलखुश कुमार जिन्होंने रोडवेज नाम की ओला जैसी टैक्सी सर्विस को शुरू की।

WhatsApp Group Join Join WhatsApp Group

कभी बेचा सब्जी

उनकी सबसे इंस्पायर करने वाली कहानी यह है, कि कभी यह रिक्शा चलाया करते थे, और सब्जी बेचा करते थे, आज इन्होंने करोड़ों रुपए की स्टार्टअप खड़ी कर दी है, जिसके अंदर आईआईएम, मैनेजमेंट और आईआईटी जैसे बड़ी संस्थाओं से बढ़े हुए युवा को रोजगार दे रहे हैं।

ओला उबर को टक्कर

दिलखुश कुमार खुद बताते हैं कि उन्होंने दिल्ली जैसे बड़े महानगरों में ओला उबर जैसी टैक्सी सर्विस की तरह ही बिहार में भी कुछ ऐसा ही बड़ा करना चाहते थे।

तब जाकर दिलखुश अपनी कंपनी खड़ी की और आज उनकी कंपनी सार्क टैंक जैसी बड़ी शो से बड़ी फंडिंग मिली है।

दिलखुश की कहानी है रोचक

दिलखुश कुमार की खुद की कहानी भी बेहद रोचक है दिलखुश कुमार बिहार के सहरसा के रहने वाले हैं। दिलखुश कुमार कभी दिल्ली में रिक्शा चलाए करते थे वहीं पटना में उन्होंने सब्जी भी भेजा था।

लेकिन कुछ ही समय में दिलखुश कुमार ने करोड़ों की कंपनी खड़ी कर दी दिलखुश अभी रोडवेज नामक कंपनी के संस्थापक है, दिलखुश कुमार बताते हैं कि रोडवेज कंपनी बिहार की सबसे बड़ी कंपनी बनाने की योजना है।

वह बताते हैं कि 100 करोड़ की कंपनी अधिक कंपनी रोडवेज को बनाना है। अभी कंपनी का वैल्यूएशन 5 करोड़ बताया जा रहा है।

दिलखुश कुमार का लक्ष्य 100 करोड़ की वैल्यू वाली कंपनी बनाना जाए, अभी के समय में दिल खुश आईआईएम और आईआईटी जैसे पर बड़े-बड़े संस्थानों के छात्रों को अपनी कंपनी रोडवेज में नौकरी दे रहे हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *