UPSC Success : गजब की लड़की इंजीनियरिंग के साथ की यूपीएससी की तैयारी और पहले प्रयास में बन गई टॉपर

यूपीएससी परीक्षा की जैसी बात आती है हमारे दिमाग में यह जरूर आता है, कि यह परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन परीक्षा में से एक है, लेकिन कुछ लोग इतनी प्रतिभा के धनी होते हैं कि वह इन परीक्षा को बस चुटकियों में निकाल देते हैं।

दरसल एक छात्रा ने इंजीनियरिंग के साथ यूपीएससी की भी तैयार की और उन्होंने इंजीनियरिंग में बहुत अच्छी नंबर लाई और यूपीएससी में भी अब्बाल रही।

WhatsApp Group Join Join WhatsApp Group

तो चलिए इस खबर में आगे जानते हैं इस छात्रा के बारे में और उनकी सक्सेस स्टोरी के बारे में किस तरीके से इन्होंने यूपीएससी में पहले प्रयास में ही अबल रहे।

पूरे भोपाल में की टॉप

आपको बता दूं की सृष्टि देशमुख भोपाल की रहने वाली है, और सृष्टि देशमुख ने पहले प्रयास में ही महिलाओं की श्रेणी में पूरे भोपाल में यूपीएससी की परीक्षा में टॉप की है। वह भी उन्होंने इंजीनियरिंग की तैयारी करते हुए पूरे भोपाल में टॉप की।

ऑल इंडिया रैंक में भी टॉप

सृष्टि देशमुख इंजीनियरिंग की तैयारी भी कर रही थी। इसके साथ-साथ उन्होंने यूपीएससी की भी तैयारी की वहीं जहां पूरे भोपाल में महिला श्रेणी में टॉप की वही ऑल ओवर इंडिया में टॉप फाइव में जगह बनाई उनके स्थान पांचवा रहे।

पहला प्रयास को माना अंतिम प्रयास 

सृष्टि देशमुख जानकारी देते हुए बताती है कि जब उन्होंने तैयारी शुरू की थी तो उन्होंने यह ठान लिया था कि उनका पहला प्रयास ही अंतिम प्रयास होगा।

वही दूसरी या तीसरी प्रयास यूपीएससी नहीं देंगे और वह पढ़ाई में जुट गई और देखते ही देखते पहले प्रयास में ही वह आईएएस बन चुकी है।

सोशल मीडिया से बनाई दूरी

सृष्टि देशमुख बताती है कि आपको किसी मंजिल को पाने के लिए आपको सोशल मीडिया से दूरी बनाने की जरूरत पड़ती है, और सृष्टि देशमुख ने भी ऐसा ही किया वह कुछ महीनो के लिए सोशल मीडिया से पूरी तरीके से पूरी बन गई और पढ़ाई में मन लगाया।

सृष्टि देशमुख की अभी बताती की यूपीएससी निकालने के लिए हर रोज 5 से 7 घंटे की पढ़ाई की जरूरत होती है, और उन्होंने भी 5 से 7 घंटे हर रोज पढ़ाई की जिसके बाद आज वह इस बन चुकी है।

Also Read : BPSC Success Story : एक नही अंगद के घर आए 5 जॉनिंग लेटर, भभुक होकर कहीं बड़ी बात

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *