बिहार में एक और इथेनॉल फैक्ट्री का निर्माण अंतिम चरण में, जनवरी से होगा उत्पादन जानिए कहां हुआ निर्माण

0
778

बिहार में फैक्ट्रियों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है। बिहार सरकार की इथेनॉल पॉलिसी की वजह से बिहार में लगातार फैक्ट्री लगाए जा रहे हैं। आपको बता दूं कि बिहार में देश का पहला इथेनॉल फैक्ट्री का निर्माण किया गया है जो कि बिहार के पूर्णिया में बनाया गया है और यहां से उत्पादन भी शुरू हो गया है। इसी बीच अब बिहार में एक और इथेनॉल फैक्ट्री का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है।

आपको बता दूं कि बिहार के मुजफ्फरपुर जिला में एक और एथेनॉल फैक्ट्री का निर्माण लगभग अपने अंतिम चरण में है। दरअसल मुजफ्फरपुर के मोतीपुर के मुरारपुर स्थित एथेनॉल प्लांट का निर्माण और लगभग अपने अंतिम चरण में है और यहां पर उत्पादन जनवरी से शुरू किया जा सकता है दरअसल इसका निरीक्षण करने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे थे।

वही इस इथेनॉल फैक्ट्री की शुरू होने की बात करू तो आपको बता दूं कि जनवरी 2023 से इस इथेनॉल प्लांट से हर दिन 100 किलो लीटर एथेनॉल का उत्पादन शुरू हो जाएगा। इस प्लांट के शुरू होने से लगभग 5000 लोगों को रोजगार मिलेगा। इसके साथ-साथ इसका लाभ सीधा तौर पर किसानों को मिलेगा आपको बता दूं कि इथेनॉल के उत्पादन के लिए करीब 280 टन मक्का या टूटा हुआ चावल की जरूरत होगी जो कि किसानों से लिए जाएंगे।