कभी थे मजदूर अब करोड़पति, बिहार का चनपटिया स्टार्टअप जोन लोगों की बदल दी जिंदगी जानिए

0
386

वैसे तो बिहार में उद्योग धंधे की भारी कमी है लेकिन कुछ ऐसे कदम उठाए गए हैं जिसके बाद से बिहार के कई ऐसे जिले हैं जहां पर स्टार्टअप कल्चर बेहद फलने फूलने लगी है। दरअसल हम बात करें बिहार के चनपटिया के बारे में राजधानी पटना से महज 216 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पश्चिम चंपारण के बेतिया के चनपटिया पूरी तरह से बदल चुका है।

चनपटिया बाजार समिति जो कभी एक खाली हुआ करता था वहां पर अब कई बड़े-बड़े स्टार्टअप हब के तौर पर तब्दील हो चुका है। बिहार से बाहर से आए मजदूर अपना स्टार्टअप खड़ा करके और लाखों रुपए की बिजनेस कर रहे हैं।

करते थे जन्दूरी आज है करोड़ो की कंपनी

चनपटिया स्टार्टअप जोन (chanpatia startup model) की स्टार्टअप करने वाले नंदकिशोर कुशवाहा बताते हैं कि लाखों मजदूर की तरफ मैं भी एक मजदूर के तौर पर घर वापस आए थे लेकिन आज उनके पास एक चंपारण क्रिएशन नाम की कंपनी है जहां पर वह साड़ी में कढ़ाई का काम कराते हैं और सालाना टर्नओवर दो करोड़ की है। कभी वह सूरत में इसी काम को किसी और कंपनी के लिए किया करते थे लेकिन अब उनकी खुद की कंपनी है।

इसी चनपटिया में स्टार्टअप करने वाले आनंद कुमार बताते हैं कि उनके पास स्टील के बर्तन बनाने की फैक्ट्री है कभी वह 22 साल से दिल्ली में स्टील के बर्तन बनाने वाली फैक्ट्री में काम करते थे वापस आने के बाद उन्होंने अपना फैक्ट्री शुरू किया आज वह लाखों रुपए अपनी ही कंपनी में कमाते हैं।

उधर इस जिला के डीएम कुंदन का कहना है कि हम पूरे पश्चिम चंपारण को स्टार्टअप जोन बनाने की प्लानिंग पर काम कर रहे हैं वह कहते हैं कि बैंक साथ कई मीटिंग के बाद हमने चनपटिया में सालों से खाली पड़े वेयरहाउस को एक स्टार्टअप जोन में कन्वर्ट कर दिया और आज कई बड़ी बड़ी कंपनी यहां पर खड़ी हो चुकी है आज यहां की कई कंपनी अपना प्रोडक्ट विदेशों में एक्सपोर्ट कर रहे हैं।