पटना मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए जारी किए गए 1000 करोड़ रुपए, अक्टूबर 2024 तक मेट्रो शुरू करने का लक्ष्य जानिए

0
356

बिहार सरकार के सबसे बड़े ड्रीम प्रोजेक्ट माने जाने वाली पटना मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए विधानसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन बिहार सरकार ने पटना मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए 1000 करोड़ के अनुपूरक बजट को पेश किया। बताया जा रहा है कि इस राशि के जारी होने के बाद पटना मेट्रो प्रोजेक्ट का काम रफ्तार पकड़ेगा वही एजेंसी को भी इस संबंध में जानकारी दे दी गई है। बताया जा रहा है कि राशि मिलने के बाद जमीन अधिग्रहण के काम में तेजी आएगी। जानकारी के अनुसार पटना मेट्रो प्रोजेक्ट की कुल लागत 13336 करोड़ रुपए है जिसे अक्टूबर 2024 तक शुरू करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

पटना मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने जिला प्रशासन को आईएसबीटी के सामने मेट्रो का डिपो बनाने के लिए 76.645 एकड़ जमीन अधिग्रहण का प्रस्ताव दिया है। इसके लिए 23 दिसंबर तक किसानों से दावा-आपत्ति लिया जाएगा। इसके बाद किसानों को मुआवजा किया जाएगा। सरकार से राशि मिलने के बाद किसानों के बीच जनवरी से मुआवजा वितरण होना हैं। इसके साथ ही पटना मेट्रो को जमीन का हस्तांरण होगा।

बता दे की पटना मेट्रो रेल कारपोरेशन ने जिला प्रशासन को शहर में 12 मेट्रो स्टेशन के लिए अलग से प्रस्ताव दिया है। सभी स्टेशन का हिस्सा सरकारी के साथ निजी जमीन में है। इस जमीन की नापी चल रही है। वही अभी आईएसबीटी से मलाही पकड़ी के बीच 6.60 किमी एलिवेटेड मेट्रो का निर्माण चल रहा है। यहां कुल 250 पायों का निर्माण करना है। इनमें एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन के निर्माण और एलिवेटेड लाइन के लिए पायलिंग शामिल है। दानापुर से रुकनपुरा तक एलिवेटेड मेट्रो का निर्माण होना है। बताया जा रहा है कि यहां दिसंबर से यूटिलिटी शिफ्टिंग का कार्य हो जाएगा। इसके साथ साथ पटना मेट्रो को बिजली सप्लाई देने के लिए 60 मेगावाट क्षमता के दो पॉवर ग्रिड उपकेंद्र का निर्माण किया जाएगा।