बिहार में आधुनिक कृषि को बढ़ावा देने के लिए इन 13 जिलों में कृषि यंत्र बैंक होगा शुरू

0
238

बिहार में कृषि के विकास और कृषि में आधुनिक तकनीकी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बिहार के नीतीश कुमार की सरकार ने एक बड़ी पहल की है। मिली जानकारी के अनुसार बिहार सरकार बिहार के किसानों को आधुनिक कृषि करने के लिए राज्य सरकार की ओर से कृषि यंत्र उपलब्ध कराएगी जिसके लिए बिहार के 13 जिलों में 328 कृषि यंत्र बैंक की स्थापना की जाएगी। बता दें कि शनिवार को रवि महाअभियान के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस परियोजना की घोषणा की।

बिहार के इन जिलों में यंत्र बैंक की स्थापित करेगी बिहार सरकार

कृषि विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार यंत्र बैंकों की स्थापना नवादा, कटिहार, बेगूसराय, शेखपुरा, अररिया, खगड़िया, पूर्णिया, औरंगाबाद, बांका, गया, जमुई, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी जैसे आकांक्षी जिलों में ही होगी। कृषि यंत्र बैंक की स्थापना किसान समूहों के माध्यम से की जाएगी। किसान समूहों आस पास के किसानों को कृषि उपकरण किराये पे दे सकते हैं। जिसके बाद इस योजना से छोटे किसानों को आसानी से कृषि-यंत्र उपलब्ध होगा और समूह की आमदनी भी भी वृद्धि होगी।

इसके साथ साथ राज्य सरकार के द्वरा पटना और मगध प्रमंडल में 25 स्पेशल कस्टम हायरिंग सेंटर की स्थापना की जाएगी। इसके साथ साथ राज्य सरकार कृषि यंत्रों की खरीदारी पर 80 प्रतिशत अनुदान देगी। बता दे कि कृषि यंत्र बैंक की स्थापना के लिए अधिकतम 8 लाख और विशेष कृषि यंत्र बैंक की स्थापना के लिए 12 लाख रुपये तक अनुदान भी दिए जाने की योजना हैं। कृषि यंत्रों पर दी जाने वाली योजना इसी वर्ष रबी मौसम से शुरू होगी। कृषि विभाग की तरफ से रबी सीजन में राज्य के 40 हजार किसानों को तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाएगा।