बेरोजगारी के ऊपर बिहार के इस यूट्यूबर मचाया धमाल लोगो को आरहा है पसंद , सोशल मीडिया पर खूब मिल रहे हैं लाइक

0
278

भारत में इन दिनों बेरोजगारी का मुद्दा सबसे बड़ा मुद्दा बना हुआ है। बेरोजगारी तथा नौकरी न मिलने से बिहार के साथ-साथ भारत के छात्र परेशान हैं। इसी प्रकार परीक्षा की तैयारियां करने वाले छात्र परीक्षा की तिथि तथा रिजल्ट समय पर घोषित ना करने के लिए भी समय-समय पर अपनी आवाज को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर उठाते रहते हैं। लेकिन इन दिनों बिहार के रखने वाले यूट्यूब बेरोजगारी एंथम काफी वायरल हो रहा है।

बता दें कि इस गाने को आदर्श बिहार के भागलपुर के रहने वाले आदर्श आनंद ने लिखा है और अपने यूट्यूब चैनल पर दाल है जिसके बाद से यह वीडियो देश दुनिया में लोग खूब पाषंड कर रहे है, और इस गाने का संगीत कर्ज सिनेमा के गाने ऊं शांति की धुन पर बनाया गया है। इस गाने के बोल कुछ यूं हैं…. ”हे तुमने कभी कोई फॉर्म फिल किया. रेलवे को कोई चांस दिया मैंने भी दिया.  ला… ला… ला… मेरी उमर के बेरोजगारो जाति धर्म के चश्मे उतारो…. मेरी उमर के बेरोजगारी जाति धर्म के चश्मे उतारो. देखो ये कमिशन… दे रहे हैं हमको टेंशन.  यूपीएसएससी, एसएससी,  रेलवे… हर कोई खेलता है छात्रों से खेल वे, लेते नहीं हैं एग्जाम यूंहीं साल हमारे बर्बाद करते। लेते नहीं हैं एग्जाम यूं ही साल हमारे बर्बाद करते राम और ले चुके एग्जाम बिन रिजल्ट तरसे… तो गाओ दो… नौकरी… नौकरी हमको….दो नौकरी… नौकरी जैसा की आप खबरों के निचे इस गाने को सुन भी सकते है।

इस गाने की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि खबर लिखे जाने तक इस गाने को 2 लाख 87 हजार से अधिक लाइक्स मिल चुके हैं। इस पर 8 हजार से ज्यादा कमेंट किए गए हैं। यही नहीं 59 हजार से भी अधिक बार यह वीडियो शेयर किया गया है। अब तक 6.4 मिलियन से ज्यादा व्यूज भी मिल चुके हैं। युवाओं के बीच तथा सोशल मीडिया पर यह वीडियो काफी वायरल हो रहा है और लोग इस वीडियो के माध्यम से सरकार पर कटाक्ष करते दिखाई दे रहे हैं।