बिहार के इस जेल के कैदियों के द्वरा उगाई गई लाल भिंडी संवार रही है लोगों की सेहत

0
509

बिहार के एक जिले के जेल से एक बड़ी राहत देने वाली खबर सामने आई है। बता दें कि इस जेल के कैदी अपने हाथों से दुर्लभ माने जाने वाली लाल भिंडी को तैयार करके अपनी सजा कम करने के साथ-साथ लोगों की अच्छी सेहत बनाने का भी काम कर रहे हैं जो समाज के लिए एक मिसाल बनकर सामने आया है।

दरभंगा जेल के कैदियों द्वारा तैयार की जा रही है दुर्लभ माने जाने वाली लाल भिंडी आपको बता दें कि दरभंगा जेल के जेल परिसर में कैदियों द्वारा पोषक तत्वों से भरे लाल भिंडी को गाया जाता है। बता दें कि इस का वैज्ञानिक नाम रेड ओकेरा है। इसकी सबसे खास बात यह है कि इसमें आम भिंडी की तुलना में कई अधिक मात्रा में पोषक तत्व भरपूर होते हैं जो कि मनुष्य को सभी रोगों से लड़ने के लिए तैयार करता है। बता दें कि दरभंगा के डीएम डॉक्टर त्यागराजन की पहल से यह कार्य संपन्न हो रहा है।

डायबिटीज और ब्लड प्रेशर में लाभकारी लाल भिंडी, जेल परिसर में कैदी कर रहे हैं उत्पादन लाल भिंडी के संबंध में चिकित्सक बताते हैं कि लाल बंडी कई प्रकार की बीमारियों में उपयोगी माना जाता है। डॉक्टरों के अनुसार लाल बिंदी हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। बता दें कि अभी दरभंगा जेल परिसर के 4.5 कट्ठा जमीन पर लाल भिंडी का उत्पादन किया जा रहा है। अभी फिलहाल के लिए कैदियों के भोजन में इसका उपयोग किया जाता है लेकिन जल्दी जेल परिसर के अन्य 5 कट्ठा जमीन पर इसका उत्पादन किया जाएगा और इसे बाहर भेजा जाएगा। बता दें कि प्रतिदिन तकरीबन 5 किलो के करीब लाल भिंडी जेल के कैदी उत्पादित कर लेते हैं।