आने वाले समय में बिहार की बदलेगी सूरत 4 सालो में बिहार में बनेगा 28 मेडिकल कॉलेज और मोइनुल हक स्टेडियम सहित कई स्टेडियम का होगा कायाकल्प जानिए 

0
1221

बिहार की हेल्थ सेक्टर और खेल में भी आगे बढ़ने के लिए सरकार कई बड़ी योजनाओ पर काम कर रही है बता दे की आने वाले कुछ सालों के अंदर बिहार शिक्षा और चिकित्सा और खेल के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन जाएगा. बिहार सरकार इसके लिए लगातार ही प्रयत्न कर रही है. इसी कड़ी में बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने विधान परिषद में बिहार स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय विधेयक 2021 पेश करते हुए बताया कि आने वाले 4 सालों के अंदर बिहार में 28 मेडिकल कॉलेज बनाया जाएंगे. इसके साथ-साथ उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि यह बिहार के विकास के लिए एक बहुत बड़ा साबित होगा।

जानकारी के अनुसार, इस विधेयक पर चर्चा करते हुए राजद के रामचंद्र पूर्वे ने अपना सुझाव देते हुए बिहार सरकार की तारीफ करते हुए कहा की यह बिहार सरकार की बहुँत बड़ी पहल हैं. इसके साथ ही मंत्री मंगल पांडे ने कहा कि चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में यह बड़ा कदम होने वाला हैं बता दे की विधान परिषद् में स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय विधेयक 2021 के साथ साथ बिहार खेल विश्वविद्यालय विधेयक 2021 का प्रस्ताव भी पेश किया गया हैं. जानकारी के अनुसार, यह विधेयक कला, संस्कृति और युवा विभाग के मंत्री आलोक रंजन ने पेश किया हैं. उन्होंने यह जानकारी दी हैं की यह बिहार का पहला और देश में इस तरह का छठा विश्वविद्यालय होगा।

बिहार के कई स्टेडियम का बदलेगा सूरत  बता दे की विधान परिषद् में इन सभी बातों के साथ साथ पटना के मोइनुल हक स्टेडियम के साथ साथ बिहार के हर जिला में बने स्टेडियम की बदहाली भी चर्चा की गई हैं बता दे की आने मोइनुल हक स्टेडियम के विकाश की भी योजना बनाई जा रही हैं।

बता दे की कांग्रेस के प्रेमचंद मिश्रा ने यह कहा की मोइनुल हक स्टेडियम में 50 हजार लोगों के बैठने की क्षमता है लेकिन 16 साल में राज्य में एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं हुआ हैं. यह राज्य सरकार के लिए एक चिंता की बात हैं. बता दे की इस चर्चा में सरकार की तरफ से भाजपा के संजय पासवान और देवेश कुमार भी शामिल हुए थे।