बिहार के सिंघम मनु महाराज पाच सालों तक देंगे बिहार से बहार सेवा, जानिए किस विभाग मे किए गए ट्रांसफर

0
879

भारत के हिमाचल प्रदेश के रहने वाले मनु महाराज को शायद ही बिहार में कोई ऐसा होगा जो नही जनता होगा. अपने दबंग अंदाज़ और काम करने की छवि के कारणों से उनको बिहार का सिंघम भी कहा जाता हैं. बिहार में उनकी अपनी एक अलग ही छवि हैं. वह बिहार के युवा वर्ग में काफी लोकप्रिय हैं. इसी कड़ी में मनु महाराज से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई हैं. जानकारी के अनुसार, सारण जिलें के वतर्मान के वर्तमान डीआइजी तथा 2005 बैच के आइपीएस अधिकारी मनु महाराज अब पाँच वर्षो के लिए बिहार से बाहर रहकर अपनी सेवा देने वाले हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, मनु महाराज को भारतीय-तिब्बत सीमा पुलिस (आइटीबीपी) में पुलिस उप-निरीक्षक का पद के सम्मान से नवाज़ा गया हैं. बताया जा रहा हैं वह अपने इस पद पर पाच वर्षों के लिए सेवा देंगें. इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से अधिसूचना भी जारी किया जा चूका हैं।

मनु महाराज वतर्मान में सारण के डीआइजी हैं. जिसके बाद रविंद्र कुमार को सारण के नई डीआइजी बनाने की घोषणा भी की जा चुकी हैं. इसके पूर्व वह मुंगेर के डीआइजी के रूप में भी काम कर चुके हैं. जानकारी के अनुसार, पटना के एसएसपी के पद पर करने के समय उनकी छवि काफी लोकप्रिय भी हो गई थी।

मनु महाराज मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं. उन्होंीने साल 2006 में भारतीय पुलिस के रूप मे अपने इस पुलिस की यात्रा की शुरुवात की थी. जानकारी के अनुसार, वह बिहार में काफी लोकप्रिय हैं. युवा मनु महाराज को बिहार का सिंघम कहते हैं. इसके साथ साथ वह अपने मूंछों की खास स्टााइल के लिए भी जाने जाते हैं. आज नु महाराज की गिनती एक सफल प्रशासनिक अधिकारी के रूप मे की जाती है. इसके साथ साथ बिहार के युवा उनको अपना आदर्श मानते हैं.