पटना गांधी मैदान का पुराना नाम क्या था जैसी कई राज जो आप नही जानते

0
10724

क्या आपको पता है कि गांधी मैदान का पहले नाम क्या था गांधी मैदान के नाम से पहले किस इसे नाम से जाना जाता था सैकड़ों हजारों आंदोलनों और सत्ता परिवर्तन का गवाह रहे गांधी मैदान का नाम कैसे गांधी मैदान पड़ा तो चलिए हम आपको बताते हैं गांधी मैदान का पुराना नाम क्या था सबसे पहले आपको यह बताते हैं कि पटना के गांधी मैदान का नाम बांकीपुर मैदान दरअसल गांधी मैदान से पहले आंदोलनकारी मैदान का नाम बांकीपुर मैदान था मुजफ्फरपुर शहर के विश्वनाथ प्रसाद चौधरी की पहल पर राज्य सरकार ने 6 अप्रैल 1948 को एक आदेश पारित किया फिर जाकर बांकीपुर मैदान को गांधी मैदान के नाम से जाना जाने लगा।

नाम बदलने के पीछे यह था बड़ा वजह आपको बता दें कि ऐतिहासिक मैदान का नाम बदले जाने के पीछे बड़ी दिलचस्प कहानी है एक साल भी नहीं बीते थे कि बाबू की हत्या हो गई और फिर देश भर में शोक और प्रार्थना का आयोजन सुरु हो गया उधर पटना रेडियो से लगातार प्रसारित हो रही सूचनाओं में जब विश्वनाथ प्रसाद चौधरी ने यह सुना की प्रार्थना सभा का आयोजन बांकीपुर मैदान यानी कि अभी का गांधी मैदान में होगा तो उन्हें अच्छा नहीं लगा और उन्होंने इसको लेकर सरकार को पत्र लिखा जिसमें उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान जिस धरती पर बापू ने महीनों बैठ कर प्रार्थना की उस पवित्र भूमि का नाम उनके नाम पर नहीं है यह दुख की बात है तब जाकर इस मैदान का नाम बापू के नाम पर रखा गया आपको बता दु की नाम बदलने के लिए 5 नाम सुझाए गए थे इनमें महात्मा गांधी मैदान, गांधी मैदान, गांधी उद्यान, गांधी प्रार्थना सभा और गांधी पार्क शामिल थी लेकिन सरकार ने गांधी मैदान के नाम पर ही मुहर लगा दी।