सावधान बिहार में अगले तीन दिनों में भारी बारिश का अलर्ट, कई जिलों में बाढ़ की चेतावनी

0
691

बिहार में मानसून आते ही लोगों को गर्मी से राहत मिली है वहीं दूसरी तरफ बिहार के कुछ ऐसे जिले हैं जहां पर बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो चुकी है उधर मौसम विभाग केंद्र पटना के तरफ से अगले 3 दिनों के लिए बड़ी चेतावनी जारी की गई है इस चेतावनी पर साफ तौर पर कहा गया है कि अगले तीन दिनों में भारी बारिश होने की संभावना है इसके साथ-साथ आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना अधिक जताई गई है इस दौरान लोगों को सावधान रहने की भी अपील की गई है मौसम विभाग ने अपने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि मौसम की वर्तमान गतिविधि एवं संख्यात्मक मौसम मॉडल के आकलन के अनुसार बिहार के अधिकांश जिलों में कहीं-कहीं बज्रपात के साथ भारी वर्षा तथा राज्य के कई जिलों में गंगा नदी से सटे जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश और अति भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है।

कई शहरों में जलजमाव की स्थिति मानसून की वजह से हो रही बारिश की वजह से जहां लोगों को गर्मी से राहत तो मिली है लेकिन कई शहरों में जलजमाव की स्थिति हो चुकी है उत्तर बिहार के कई जिलों में भारी बारिश और अति भारी बारिश होने की संभावना है निचले इलाकों में जलजमाव यातायात बाधित होने की भी आशंका जताई गई है उधर भारी बारिश की वजह से शहरों में जलजमाव की स्थिति हो गई है जिसमें राजधानी पटना सहित मुजफ्फरपुर दरभंगा सहित इसमें कई शहर शामिल है

बिहार के कुछ हिस्सों में बाढ़ की भी चेतावनी बिहार में हो रही लगातार मानसून की भारी बारिश की वजह से बिहार के कुछ हिस्सों में बाढ़ की चेतावनी केंद्रीय जल आयोग की तरफ से जारी कर दी गई है केंद्रीय जल आयोग ने बिहार में गंडक और बूढ़ी गंडक नदी के लिए ऑरेंज अलर्ट बुलेटिन भी जारी किया है बुधवार कि सुबह 8 बजे तक बिहार में गंडक और बूढ़ी गंडक नदियों अपने खतरे के निशान से ऊपर बह रही है उधर सीडब्ल्यूसी की एडवाइजरी में साफ तौर पर बताया गया कि बिहार के गोपालगंज जिले के डुमरिया घाट में गंडक नदी 62.4 मीटर के जलस्तर पर बैठी हुई प्रगति के साथ पा रही है जो कि 62.22 मीटर के खतरे के स्तर से 0.1 8 मीटर ऊपर है पूर्वी चंपारण और पश्चिमी चंपारण जिले में बूढ़ी गंडक नदी गंभीर स्थिति में बह रही है जिससे बाढ़ का खतरा इन जिलों में मडराने लगा है वहीं बिहार के गांव के कई निचले इलाकों में बाढ़ पानी प्रवेश कर चुका है।