बिहार को बड़ी सौगात 2400 करोड़ की लागत से डगमरा पनबिजली परियोजना को कैबिनेट की मिली हरी झंडी

0
616

बिहार के अधिकतर जिलों को पूर्ण रूप से ग्रीन एनर्जी से बिजली देने की कोशिस सरकार कवायदा सुरु हो चूका है इसको लेकर अभी फिलहाल बिहार सरकार कई योजनाओं पर काम कर रही हैं जिसमें सोलर परियोजना भी शामिल है इसी क्रम ने सुपौल जिला के डगमरा में कोसी नदी पर 130 मेगावाट का जल विद्युत परियोजना की बिहार कैबिनेट की तरफ से कल  हरी झंडी मिल गई है इस योजना को पूरा होने के बाद बिहार को बिजली की कमी नहीं होगी इसे कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद अब इसका निर्माण केंद्र सरकार के एनएचपीसी के माध्यम से कराया जाएगा।

काल्पनिक तस्वीर

खबरों के अनुसार बताया जा रहा है कि बिहार स्टेट हाइड्रोलिक पावर कारपोरेशन लिमिटेड और केंद्र की एनएचपीसी के साथ करीब करीब 40 सालों के लिए इकरारनामा किया जाएगा और इस प्रोजेक्ट को पूरा किया जाएगा इस परियोजना को अगले 5 सालों में पूरा किया जाएगा और उधर राज्य कैबिनेट ने परियोजना के निर्माण अवधि में 5 वर्षों के दौरान कुल 700 करोड रुपए के अनुदान की भी मंजूरी दे दी गई है और पांच सालों में 700 करोड़ रुपए खर्च किये जायेंगे वही आपको बता दूं कि इस परियोजना को सुपौल के कोसी बराज से नीचे और कोसी महासेतु से थोड़ा ऊपर बनने वाले डगमगा पर बिजली परियोजना की पूरा लागत 2400 करोड़ बताया गया है जिसमे सोलर पावर प्रयोजन जैसे कई प्रयोजन सामिल है वही इस पनबिजली परियोजना की सबसे बड़ी खास बात यह होगी कि यह एक पनबिजली से बिजली उत्पादन के साथ-साथ सौर ऊर्जा से भी बिजली उत्पादन की जाएगी।