बिहार के पश्चिमी चंपारण में केले के छिलके के रेशे से बनाई जा रही है टोपी सहित कई सामग्री देखिए

0
180

बिहार में लोगों को स्वरोजगार के लिए कई तरह से लोगो प्रशिक्षित किया जा रहे हैं बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले में लोगों को केले के छिलके के रेशे से टोपी सहित कई सामग्री बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है आपको बता दूं कि पश्चिम चंपारण जिले के सहित अन्य प्रखंडों में केले के छिलके से से टोपी और अन्य सामग्री बनाए जाने को लेकर प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है इससे महिलाओं को रोजगार और उनकी उधमिता को भी बढ़ावा मिल रहा है।

वही इस केले के छिलके के रेशे से कई सामग्री शानदार तरीके से बनाए जाते हैं यह केले केले के रेशे काफी मजबूत होते हैं और टिकाऊ भी इसके रेशे से रंग बिरंगी टोपी भी बनाई जाती है इसके साथ साथ अन्य सामग्री जैसे झोला आदि बनाई जाती है अगर कोई भी महिला अगर इस प्रशिक्षण से जुड़ना चाहती है तो इसका प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है इससे महिलाओं में उद्यमिता को बढ़ावा मिल रहा है जैसा कि आप नीचे दिए गए वीडियो में देख सकते हैं कि केले के छिलके से किस प्रकार रंग बिरंगे टोपी बनाई गई है।