बिहार के कोसी और सीमांचल जिलों में 5 हजार करोड़ से तैयार हो रहे हैं रोड नेटवर्क

0
281

बिहार में रोड नेटवर्क को और भी बेहतर बनाने को लेकर उत्तर बिहार में अब रोड नेटवर्क का जाल और भी बेहतर तरीके से बिछाने की योजना बिहार सरकार की है बिहार के सीमांचल और कोसी में 5000 करोड़ से तरक्की जाल बिछाए जाने से कड़ी कड़ी दो करोड़ आबादी की आधारभूत संरचना की वजह से आवागमन और भी बेहतर हो जाएगी आपको बता दूं कि इसमें नेशनल हाईवे 131 ए और नेशनल हाईवे 107 नेशनल हाईवे 57 ए नेशनल हाईवे 327 आदि का काम काफी तेजी से किए जा रहे हैं।

वही आपको यह भी बता दु कि इन हाईवे के बन जाने के बाद बिहार के सीमांचल एरिया से झारखंड बंगाल और नेपाल आने जाने में लोगों को काफी आसानी होगी और इससे सीमांचल एरिया में सामाजिक और आर्थिक विकास में और भी तेजी आने की अनुमान है वहीं सीमांचल और कौन सी एरिया का सबसे बड़ा परियोजना नेशनल हाईवे 121 का काम शुरू कर दिया गया है जिसमें करीब करीब 49 किलोमीटर सड़क बनाई जाएगी जिसमें करीब 2 उच्च स्तरीय सेतु और 15 छोटे ब्रिज और दो फ्लाईओवर और तीन आरोपी और सत्र अंडरपास बनाए जाएंगे।

इसके साथ-साथ नेशनल हाईवे 107 का भी काम काफी तेजी से किया जा रहा है इसे करीब करीब 736 करोड़ की लागत से बनाया जा रहा है जो कि पूर्णिया से मधेपुरा के बीच इसका निर्माण किया जा रहा है इसके साथ-साथ नेशनल हाईवे 57 ए जून में लगभग तैयार हो जाएंगे इसे भी करीब 129 करोड़ की लागत से बनाया जा रहा है किशनगंज से लेकर बहादुरगंज के बीच 3 किलोमीटर नई फोर लाइन रोड का भी निर्माण किया जा रहा है जिसके बन जाने के बाद अररिया और किशनगंज जिले की आबादी को इसका भरपूर लाभ मिल पाएगा इसके साथ-साथ बंगाल आने जाने में भी लोगों को आसानी होगी।