गंडक समेत बिहार के 7 नदियों को किया जाएगा साफ, मुजफ्फरपुर समेत इन शहरों में लगेंगे सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

0
917

बिहार में गंगा के अलावा बिहार की 7 और नदियों को स्वच्छ करने की योजना पर काम किया जा रहा है इन नदियों के किनारे बसे वह सभी शहर की ड्रेनेज सीवरेज गंदा पानी आदि को साफ कर के नदियों में छोड़ी जाएगी गंगा नदी में नमामि गंगे परियोजना के तर्ज पर अभी फिलहाल कई ऐसे प्रोजेक्ट है जिस पर काम करीब-करीब पूरा होने वाले हैं वहीं अब इसी के तर्ज पर कोसी बूढ़ी गंडक, गंडक, बागमती और महानंदा नदी में गिरने वाले गंदा पानी को अब सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के जरिए साफ करके नदी में छोड़ा जाएगा।

आपको बता दूं कि इसको लेकर नगर विकास और आवास विभाग के निर्देश पर बिहार शहरी आधारभूत संरचना विकास निगम लिमिटेड की ओर से इन योजना की डीपीआर तैयार किया जा रहा है जिसके बाद इस प्रोजेक्ट पर बहुत ही जल्द आपको बिहार के करीब 15 शहरों में काम होते हुए दिखेगा।

इन शहरों में बनेंगे सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

इस प्रोजेक्ट के तहद कोसी और बूढ़ी गंडक के किनारे बसे इन शहरों जैसे सहरसा सुपौल और मधेपुरा में एसटीपी और आईएडी बनाने की योजना है वही इसके अलावा बूढ़ी गंडक के किनारे बसे शहर जैसे मुजफ्फरपुर मोतिहारी और समस्तीपुर के लिए एसटीपी और सीवरेज पाइप लाइन प्रोजेक्ट बनाए जाएंगे इसके साथ-साथ सोन, गंडक नदी के किनारे बसे शहर जैसे डेहरी अरवल दाउदनगर के लिए भी एसटीपी और सीवरेज पाइप लाइन का प्रोजेक्ट बनाया जाना है इसके साथ साथ गंडक नदी से जुड़े गोपालगंज शहर के प्रोजेक्ट को भी स्वीकृति के लिए डीपीआर एनएमसीजी को भेज दिया गया है इसके साथ-साथ लखीसराय और जमुई दरभंगा किशनगंज शहर, जैसे 15 छोटे बड़े शहरों में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जाना है।