बिहार का कोई भी व्यक्ति प्रदूषण जांच केंद्र खोलकर पा सकता है रोजगार, जाने पूरी प्रक्रिया

0
351

बिहार में इन दिनों बेरोजगारी एक बड़ा मुद्दा है इसी बीच बिहार में नई सरकार बन चुकी है और नई सरकार इस बार रोजगार के मुद्दे पर कुछ ना कुछ करने का सोच रही है इसी बीच परिवहन विभाग ने बिहार के लोगों के लिए रोजगार के अवसर खोल दिए हैं दरअसल बिहार में प्रदूषण जांच केंद्र की संख्या में 4 गुना बढ़ोतरी की गई है आपको बता दूं कि पहले यह प्रदूषण जांच केंद्र पूरे बिहार में 250 ही थे लेकिन अब इसे बढ़ाकर 1000 कर दिया गया है और इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि इस प्रदूषण जांच केंद्र को बिहार का कोई व्यक्ति खोल सकता है।

इस प्रकार ले प्रदूषण जांच केंद्र खोलने की अनुमती

अगर आप प्रदूषण जांच केंद्र खोलने का मन बना लिए हैं तो आपको यह जानना जरूरी है कि प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए आपको इंटरमीडिएट या 12वीं कक्षा विज्ञान के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है इसके साथ साथ प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए लाइसेंस लेने के लिए आपको पटना का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा अब हर जिले के प्रखंड में वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने का लाइसेंस जिला परिवहन पदाधिकारी दे रहे हैं वहां पर आप जाकर इसकी लाइसेंस ले सकते हैं।

इसकी जानकारी देते हुए परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि विभिन्न जन उपयोग सुविधाओं के साथ रोजगार सृजन विभाग की प्राथमिकता है मैं प्रदूषण जांच केंद्र खुलने से लोगों को रोजगार का एक विकल्प में क्या है ।