पटना में 22 घाट खतरनाक, जान ले कौन है वह घाट ताकि आपको परिसानी ना हो

0
698

छठ महापर्व की तैयारी जोरों शोरों पर राजधानी पटना सहित पूरे बिहार में किए जा रहे हैं और इसको लेकर बिहार सरकार के गृह विभाग ने भी गाइडलाइन जारी कर दिए हैं लेकिन इसी बीच नगर निगम की ओर से राजधानी के शहरी इलाकों में 94 गंगा घाट पर छठ पूजा की तैयारी की जा रही है और साफ-सफाई की सुविधा दी जा रही है इसके साथ-साथ लाइटिंग और स्वच्छता पर ज्यादा जोर दिया जाता है जहां पर खबरों के अनुसार 60 प्रतिशत काम भी पूरा हो चुका है वहीं दीघा के मीना घाट से पटना सिटी तक घाटों की सफाई स्थिति तक हो चुके हैं क्षेत्र की अधिकतम गंगा घाट अशोक राजपथ से जुड़े हैं लेकिन वहीं दूसरी तरफ इस बार प्रशासन ने पार्किंग नहीं बनाने और वाहन लेकर ना लाने की निर्णय लिया है हालांकि श्रद्धालुओं के घाटों तक जाने के लिए मुख्य सड़क से पहुंच पद का निर्माण और सफाई का काम फ़िलहाल कराया जा रहा है लेकिन किसी कड़ी में 22 ऐसे घाट है जो खतरनाक जोन में डाले गए हैं जहां पर रख देना मना ही किया क्या है।

 

यह है खतरनाक घाट

जिन घाटों को खतरनाक व अनुपयोगी घाट को चिह्नित किया गया है, उनमें बुद्ध घाट, अदालत घाट, मिश्री घाट, टीएन बनर्जी घाट, जजेज घाट, वंशी घाट, जहाज घाट, अंटा घाट, सिपाही घाट, बीएन कॉलेज घाट, बालू घाट, खाजेकलां घाट, पत्थर घाट, अदरक घाट, रिकाबगंज घाट, पीर मदड़िया घाट, नंदगोला घाट, नूरुउद्दीन घाट, बुंदेल टोली घाट, दमराही घाट, केशव राय घाट, बांसघाट शामिल हैं।