बिहार में चुनावी सभाओं की तरह शर्तों के साथ गंगा घाट पर भी छठ करने की मिले अनुमति

0
833

राजधानी पटना सहित पूरे बिहार में छठ का त्यौहार बहुत ज्यादा बिहार वासियों और पटना वासियों के लिए महत्व रखता है वहीं दूसरी तरफ छठ महापर्व जल्द ही नजदीक आते जा रहा है छठ महापर्व का अब सिर्फ सिर्फ 14 दिन ही बचे हैं लेकिन गंगा किनारे घाट बनाने का काम अभी तक शुरू नहीं हो पाया है जिस वजह से यह असमंजस बना हुआ है कि राजधानी पटना में और पूरे बिहार में इस बार छठ करने की परमिशन मिलेगी या नहीं जिला प्रशासन और नगर निगम के पदाधिकारी कुछ भी बोलने से फिलहाल बच रहे हैं आभी राज्य सरकार के आदेश के इंतजार है ऐसे में क्या होना चाहिए इसे लेकर इसको लेकर दैनिक भास्कर की टीम डीएम और बिहार झारखंड के मुख्य सचिव से रिटायर होने वाले आईएएस अफसर वीएस दुबे और पूर्व डिप्टी मेयर विनय कुमार पप्पू के साथ नगर निगम के अधिकारी के साथ बात की।

 

बात करते हुए बीएस दुबे ने कहा कि चुनाव की तरह शर्तों के साथ गंगा घाट पर छठ करने की अनुमति मिलनी चाहिए जब चुनाव में राजनीतिक दल को शर्तों के साथ सभा करने की अनुमति दी गई है तो उस शर्तों के साथ आम लोगों को भी छठ करने की अनुमति मिलनी चाहिए इसके साथ-साथ उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे में सरकार और प्रशासन के पास एक ही विकल्प है कि वह लोगों से अपील करें कि वह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ-साथ छठ करें और ज्यादा से ज्यादा लोग इस धार्मिक अनुष्ठानों को घर में ही करें इसके साथ-साथ सभी गाइडलाइंस को पालन करना अनिवार्य करें।