आज से शक्ति की भक्ति शहर में नहीं दिखेगा भव्य पंडाल लेकिन कुछ जगह दर्शन कर सकेंगे छोटी प्रतिमा

0
310

कलश स्थापना के साथ भक्ति शक्ति और श्रद्धा का हम महापर्व शारदीय नवरात्रि की शुरुआत आज से यानी 17 अक्टूबर से हो गया आपको बता दूं कि इस बार राजधानी पटना सहित बिहार के अन्य जिलों में मूर्ति नहीं बैठेगी लेकिन लोग घर में देवी मां की पूजा-अर्चना और कलश स्थापन कर सकते हैं मंदिरों में शंख और घंटी की ध्वनि से पूरा माहौल 9 दिन तक भक्ति में रहेगा हालांकि आपको यह भी बता दूं कि इस वार्ड भव्य पंडाल दिव्य प्रतिमा आकर्षक विद्युत सावधान आपको देखने के लिए नहीं मिलेगी ।

वहीं दूसरी तरफ राजधानी पटना के बंगाली पूजा समिति की ओर से होने वाली लोकप्रिय खेल सिंदूर खेल भी इसबार आयोजन नहीं हो पाएगा वही पूजा करने की शुभ मुहूर्त की बात करें तो पंडित श्रीपति त्रिपाठी के अनुसार सुबह 6:00 बजे से 12:00 बजे तक अलग-अलग काल में शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना कर सकते हैं लोग।