बिहार में बदला जमीन दाखिल खारिज के नियम जाने क्या होगी नई व्यवस्था

0
2661

बिहार में जमीन की दाखिल खारिज के नियमों में फिर से प्रयास किया क्या है बिहार में अब दाखिल खारिज करने में दोगुना वक्त लगेगा अगर आवेदन सही है और कोई आपत्ति नहीं है तो आपको बता दूं कि पहले दाखिल खारिज का समय 18 दिन तय किया गया था लेकिन अब नई व्यवस्था लागू होने के बाद इसे बढ़ाकर 35 दिन कर लिया गया है आपको बता दूं कि नई व्यवस्था में आवेदन के बाद जांच से लेकर सभी स्तर के कर्मियों के लिए समय सीमा तय कर दी गई है वहीं इसी के साथ आवेदन के लिए अपील की गई सीमा भी 60 दिन से बढ़ाकर अब 75 दिन कर दिया गया है।

आपको जानकारी के लिए बता दूं कि इस नियम को दूसरी बार बदला गया है इससे पहले 2012 में नए नियमावली में 2017 में संशोधन किया गया था और अब फिर से नियम को बदला गया है ।

 

एक एसएमएस से मिलेगा टोकन
अगर आप ऑनलाइन दाखिल खारिज के लिए आवेदन देते हैं तो आपको एस एम एस के माध्यम से टोकन नंबर दिया जाएगा अंचल स्तर पर केंद्रीकृत प्रणाली के तहत गठित टीम 3 दिनों के अंदर आवेदन के साथ सभी दस्तावेज रिपोर्ट लगाते हुए चीजों को भेज देगा आपको यह भी बता दूं कि न्यूटेशन के मामले में समय से निष्पादन के लिए डीसीएलआर और सीईओ के काम का भी मूल्यांकन शुरू हुआ तो पता चला कि लंबित आवेदन की संख्या बढ़ गई है और प्रक्रिया ऑनलाइन होने के कारण समय पर मिलने पर अधिकारी आवेदन को खारिज कर देते थे.