बिहार के इन जिलों के क्षतिग्रस्त एनएच होंगे दुरुस्त

0
38312

बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि केंद्र सरकार ने सभी राष्ट्रीय उच्च पथों का रखरखाव सुनिश्चित करने और क्षतिग्रस्त पदों की बरसात के बाद मरम्मत करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिया है इसके साथ ही नेशनल हाईवे 80 के मुंगेर से भागलपुर मिर्जा चौक और उत्तर बिहार में रामजानकी पथ के सिवान से मसरख पद के लिए 1034 करोड़ रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है ।

उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने राज्य में राष्ट्रीय उच्च पथों के रखरखाव एवं निर्माण कार्य के विशेष समीक्षा बैठक की है बैठक में उन्होंने और श्री गडकरी के अलावा सड़क परिवहन राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह आदि उपलब्ध थे उन्होंने कहा कि मुंगेर से भागलपुर से मिर्जाचौकी बीच राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 80 की चिंताजनक के स्थिति के मद्देनजर राज्य सरकार के अनुरोध पर सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने 971 करो रुपए की स्वीकृति प्रदान की है इसके अंतर्गत पूरे 120 किलोमीटर की सड़क को 10 मीटर की चौड़ाई में सीमेंटेड पथ बनाया जाएगा इसके लिए टेंडर बहुत जल्द ही जारी किए जाएंगे।

इसके साथ-साथ राज्य में शिवहर से सीतामढ़ी सुरसंड मीठा मोड़ जयनगर एनएच 104 के निर्माण एवं रखरखाव की समीक्षा की गई वहीं दूसरी तरफ राम जानकी पथ के सिवान से मसरख पठान का रखरखाव करने के लिए फ्री सेट करो रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है साथ ही यह भी निर्देश दिया गया है कि इसके चौड़ीकरण के लिए अर्जेंट कार्य तेजी से किया जाए ताकि इस कार्य शुरू हो पाए ।

इसके साथ साथ बैठक में महात्मा गांधी सेतु के रिकंस्ट्रक्शन कार्य के उद्घाटन के क्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा उठाए गए कुछ बिंदुओं पर समीक्षा की गई और निर्णय लिया गया कि मुजफ्फरपुर से बरौनी फोर लाइन पद मोकामा से मुंगेर फोरलेन सड़क खगड़िया से पूर्णिया फोरलेन सड़क मुजफ्फरपुर से सीतामढ़ी से सोनबरसा फोर लाइन सड़क और बक्सर से वाराणसी फोरलेन सड़क की डीपीआर बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा शीघ्र कार्रवाई शुरू की जाएगी.