बिहार के इस केंद्रीय यूनिवर्सिटी ने पूरे देश में लाया 15 स्थान

0
467

पूरे देश में बिहार एजुकेशन की बार-बार आलोचना की जाती है और यह कहा जाता है कि बिहार की अभी एजुकेशन सिस्टम बहुत ही बुरे हालात से गुजर रही है लेकिन इसी बीच बिहार का एक सेंट्रल यूनिवर्सिटी दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय ने पूरे देश में 15वां स्थान लाकर बिहार के एजुकेशन सिस्टम के बारे में बोलने वाले लोगों के ऊपर कहीं ना कहीं मुँह पर लगाम लगा दिया है दरअसल दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी किया गया सूची में देश में 15वां स्थान हासिल किया है जो की बिहार के लिए एक बड़ी ख़ुशी की बात है।

 

 

वही आपको बता दूं कि जो इसमें यूनिवर्सिटी 100 अंकों में से 63 अंक हासिल किया है इसकी जानकारी खुद कुलपति प्रोफेसर हरीश चंद्र सिंह राठौर ने दिया है आपको बता दूं कि इसी के साथ यूनिवर्सिटी बिहार का नंबर वन इंवर्सिटी बन चुका है जानकारी के लिए बता दूं कि अभी देशभर में करीब 50 केंद्रीय विश्वविद्यालय हैं जो कि यूजीसी 2019 में संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित एक नई मर चुकी है वही यूनिवर्सिटी 10 वर्षों में देश के टॉप यूनिवर्सिटी में से 15 स्थान हासिल किया है जो कि बिहार के लिए गर्व की बात है।

 

 

आपको बता दूं कि देश में अभी सबसे नंबर वन यूनिवर्सिटी जामिया मिलिया इस्लामिया है जो कि 100 अंक में से 90 अंक हासिल करके नंबर वन पर है वहीं दूसरे स्थान पर अरुणाचल प्रदेश का राजीव गांधी विश्वविद्यालय जो कि 83 अंक प्राप्त करके दूसरा स्थान पर है वही आपको जानकारी के लिए बता दूं कि यह सर्वे को शिक्षा मंत्रालय के द्वारा कराई जाती है और इसमें यूनिवर्सिटी को अलग-अलग मापदंडों पर खरा उतरना पड़ता है जिसके बाद या रैंक यूनिवर्सिटी को दी जाती है और इस बार फिर इस सर्वे को कराया गया है और रैंकिंग की गई है।