अब बाढ़ के कारन बिहार के छपरा -मुजफ्फरपुर एनएच 722 व मोतिहारी 74 पर परिचालन ठप

0
312

बिहार में बाढ़ की हालात हर रोज़ भयावह होती जा रही है और इस वजह से कई ज़िलों से संपर्क टूटता हुआ दिख रहा है अभी बिहार में बाढ़ 14 ज़िलों में फैल चूका है वही इसके साथ साथ 112 प्रखंडों और करीब 1043 पंचायतो में फैल चूका और इस वजह से करे 49 हजार की आवादी प्रभावित हो चूका है वही दूसरी तरफ इस बाढ़ से जुड़ी हुई जानकारी साझा करते हुए आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्रडु ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में कहा है कि बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत एवं बचाव कार्य युद्ध स्तर पर चलाए जा रहे हैं।

 

वही दूसरी तरफ इस बाढ़ के वजह से बिहार के आधारभुत संरचना हो बहुत नुक्सान उठाना पर रहा है कई ट्रेन इस बाढ़ के प्रकोप के वजह से प्रभावित हो चूका है वही दूसरी तरफ कई रोज़ बुरी तरह से छतिग्रस्त हो चूका है त्तर बिहार में शनिवार को भी बाढ़-कटाव का संकट घटता नहीं दिखा। बाढ़ के कारण छपरा-मुजफ्फरपर एनएच 722 पर आवागमन को बंद करा दिया गया है। वहीं मोतिहारी में एसएच 74 पर भी पानी के कारण आवागमन ठप है। आपको बता दू की मुजफ्फरपुर से छपरा आने आने वाले एनएच 722 मकेर में पानी चढ़ चूका है।

 

वही दूसरी तरफ बिहार सरकार बिहार में बाढ़ से प्रभावित हुए लोगो को पूरी मदद कर रही है बिहार सरकार ने बाढ़ से प्रभावित लोग के कहते में सीधा पैसे दी है जो है 6 हजार रुपए अभी तक बाढ़ प्रभावित भुगतान की गई कुल राशि 116 करोड़ है। शेष प्रभावित परिवारों के खाते में भी शीघ्र ही राशि भेज दी जाएगी। इसके साथ ही बिहार में बाढ़ से प्रभावित लोगो के लिए करीब 1340 सामुदायिक किचेन चलाए जा रहे हैं, जिनमें प्रतिदिन करीब नौ लाख लोग भोजन कर रहे हैं। लेकिन अब भी हालत ख़राब है।