गोपालगंज में अब एक और महासेतु अप्रोच रोड में क्षतिग्रस्त परिचालन बाधित

0
882

अभी कुछ दिनों पहले बिहार के गोपलगंज में सत्तर घाट पूल का अप्रोच रोड बाढ़ की तीज पानी को नहीं सहन कर पाई थी और फिर वह टूट गई थी कुछ इसी तरह एक और पूल का अप्रोच रोड छतिग्रस हो गया और इस वजह से परिचालन पुरे तरह से बंद हो चूका है आपको बता दू की इसका उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश ने किया था और इसे भी सत्तरघाट पुल बनाने वाली ही वशिष्टा कंपनी ने बनाया था। आपको बता दू की महासेतु से करीब 300 मीटर के आगे ही राजवाही गांव के समीप एप्रोच रोड पर पुलिया है, वहीं पर दरार आयी है।

 

खबर के अनुसार नदी के डक की तेज बहाव की वजह से इस एप्रोच रोड में क्षतिग्रस्त हुआ है. जिसके वजह से गोपालगंज बेतिया जोड़ने वाले माह सेतु पर परिचालन रोक दिया गया है.स्थानीय ग्रामीणों और जिला प्रशासन के द्वारा एप्रोच रोड को भरने की कोशिश किया जा रहा है. आपको जानकरी के लिए बता दू की इस महासेतु का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार ने वर्ष 2015 में किया था। वही दूसरी तरफ इस एप्रोच रोड में दरार आने से प्रशासनिक महकमे व दियारावासियों में हड़कंप मच गया है।

 

आपको बता दू की इससे पहले सत्तर घाट पूल के अप्रोच रोड टूटने के बाद सरकार की बहुत ही किरकीरी हुई थी और सरकार लगातार सफाई देती हुई दिखे लेकिन कही ना कही नितीश सरकार के विकाश के काम को लेकर लोगो में संदेह बन गई है। बता दें कि गोपालगंज के सत्तर घाट पुल का एप्रोच रोड टूट गया. 264 करोड़ से ज्यादा की लागत से बने इस प्रोजेक्ट की हकीकत महज 29 दिनों में दुनिया भर के सामने आ गई. लेकिन सरकार ने निर्माण एजेंसी और इंजीनियर को क्लीन चिट दे दी है।. और इसका वजह सरकार ने बतया है पानी के बहाव को।