बिहार को मिला देश का सबसे लम्बा रेलवे पुल का सौगात, इन ज़िलों को मिलेगा लाभ

0
665

बिहार में इन दिनों एक के बाद एक नए नए सौगात मिली है जहा पिछले दिनों बिहार के भागलपुर को एक गंगा नदी पर पूल का सौगात मिला वही इसके साथ साथ एक और पूल का सौगात गंगा नदी पर मिला था जो था मनिहार साहेबगंज पूल जो की गंगा नदी पर बनाए जायेगे वही बिहार को एक और सौगात मिला है बिहार के भागलपुर को देश का सबसे लम्बा रेलवे पूल का सौगात मिल चूका है इस साल भागलपुर को दो बड़े सौगात मिले है जिससे भागलपुर के आस पास के एरिया जैसे खारिया आदि को इससे बहुत फायदा मिलेगा।

 

 

दरसल भागलपुर में विक्रमशिला-कटरिया के बीच बनने वाले रेल सह सड़क पुल के निर्माण की कवायद अब तेज कर दी गई है. आपको बता दू की इसका डिज़ाइन भी तैयार हो चूका है और इसका निर्माण के लिए दिसंबर महीने में इसकी निविदा निकलेगी आपको बता दू की इस पूल के निर्माण के लिए स्वीकृति 2016-17 की रेल बजट में मिली थी, वही इसकी बजट की बात करे तो इस पूल को बनने के लिए करीब दो हजार रुपए खर्च होंगे आपको इसके साथ यह भी बता दू की इस पूल के निर्माण में गोड्डा के सांसद निशिकांत दुबे सबसे ज्याद आयोग्दान है क्यों की इस प्रोजेट का प्रस्ताव इन्होने ने ही रेलवे बोर्ड में उठाया था।

 

इस पूल से जुड़ी हुए सबसे बड़ी सुन कर आपको गर्व होगा इस पूल के बन जाने के बाद यह यह पूल भारत का सबसे बड़ा पूल होगा वही इस रेलवे पूल के बन जाने के बाद भागलपुर का सीधा कोसी और सीमांचल से रेल संपर्क जुड़ जाएगा. इन सब की जानकारी देते हुए गोड्डा के संसद निशांत दुबे ने कहा की पल बनने से पीरपैंती-जसीडीह रेल लाइन की कनेक्टिविटी बढ़ जाएगी. और इस रेलवे पूल की खासियत यह होगी की यह कुल पांच रेलवे लाइन को जुड़ेगा जो होगा इसके साथ ही इस एरिया में आर्थिक गतिविधि भी बढ़ेगी।