सुशांत के जाने का गम नहीं बर्दास्त कर पाई उनकी भाभी रोते रोते गवा दी जान

0
9680

सुशांत सिंह राजपूत के जान का गम सभी को है चाहे वह राजनितिक गलियारा हो या वह बॉलीवुड सभी लोग इसपर अपनी अपनी राय दे रहे है लेकिन उनके अपनों का जो हल है वह सिर्फ उनके अपने ही जान रहे है सुशांत सिंह राजपूत के खुदखुशी के बाद उनके परिवार पर आफत टूट बड़ी है उनके जान से उनके घर में लोग ग़म में दुबे है और इस गम से उभर नहीं पा रहे है इसी बिच सुशांत के परिवार में एक और आफत आए पड़ी है सुशांत के जाने का गम को उनकी भाभी सुधा देवी बर्दाश्त नहीं कर सकीं. सदमे से उनकी जान चली गई।

 

आपको सुन कर हैरानी होगी की उनकी भाभी ने जान उसी समय गवाई जब सुशांत का मुंबई में अंतिम संस्कार हो रहा था आपको बता दू सुशांत के जाने की खबर के बाद उनकी भाभी सुधा देवी ने खाना पीना तक त्याग दिया था जिसके वजह से उनकी जान चली गई आपको बता दू की वे सुशांत सिंह राजपूत के पैतृक गांव पूर्णिया के मलडीहा में रहती थीं. काई पो छे, एमएस धोनी, केदारनाथ जैसी कई फिल्मों से बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने वाले सुशांत सिंह राजपूत का बिहार से गहरा लगाव रहा है. उनका जन्म पटना में हुआ था. यहीं पर उनकी प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा भी हुई.

 

इसके अलावा खगड़िया में स्थित ननिहाल से भी उनकी यादें जुड़ी हुई हैं. इसलिए सुशांत सिंह राजपूत की मौत की खबर ने आज बिहार के लोगों का दिल दुखी कर दिया. सुशांत ने अपनी शुरुआती शिक्षा राजधानी पटना के सेंट कैरेंस स्कूल में पाई थी. उच्च शिक्षा के लिए बाद में सुशांत दिल्ली शिफ्ट हो गए. लेकिन आज भी उनका परिवार पटना में रहता है. वैसे सुशांत सिंह राजपूत मूल रूप से पूर्णिया जिले के रहने वाले थे. यही नहीं, सुशांत सिंह राजपूत के रिश्ते में भाई नीरज कुमार बबूल से बीजेपी के विधायक हैं.