बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : अब प्रवासी मजदूरों का नाम भी जुड़ेगा वोटरलिस्ट में

0
296

इन दिनों बिहार में बिहार विधानसभा चुनाव का चर्चा और तैयारी जोड़ो सोर पर है आपको बता दू की बिहार विधानसभा चुनाव अक्टूवर-नवंबर महीने में विधानसभा चुनाव होना है इसको लेकर चुनाव आयोग की तैयारी सुरु कर दी है हलाकि अभी इस हालत में चुनाव पर असर पड़ेगा लेकिन दवा है की अभी भी 4 महीने का समय शेष है लिहाजा चुनावी तैयारी पूरी हो जाएगी चुनाव तैयारी पूरी हो जाएगी। सुरक्षित चुनाव कराने को लेकर चुनाव आयोग प्रतिबद्ध है।

 

बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच आर श्रीनिवासा ने बताया की इस संकट के घड़ी में हमारी तरयारी प्रभावित हुआ है और आगे भी यह तैयारी बहुत ही चैलेंजेज होने वाला है पर समय रहते ही हम तैयारी को पूरा कर लेंगे उन्होंने साथ ही यह भी बताया है की इस संकट के घरी में जो लोग भी बाहर से आए है यानि प्रवासी बिहारी का चुनाव आयोग समीक्षा करेगी की वह यहाँ के वोटर है या नहीं अगर जिन लोगो का नाम वोटर लिस्ट में नहीं है उन सभी का नाम वोटर लिस्ट में जोड़ा जाएगा आपको बता दू की इन सभी को लेकर विशेष अभियान चलाया जाएगा।

 

आपको बता दू की चुनाव आयोग के अनुसार  अभी बिहार में 73 हजार पोलिंग बूथ है साथ ही करीब 7 करोड़ से ज्यादा बोटर है यानि सीधी सी बात है की हर बूथ पर करीब 1 हजार वोटर है ऐसे में वोटिंग के दौरान सोशळ डिस्टेंसिंग कैसे मेंटेन होगा यह हमारे लिए बड़ी चुनौती है। बिहार के निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो इसके लिए क्या बूथों की संख्या बढ़ाने की जरूरत होगी? इस पर आंतरिक तौर पर मंथन चल रहा है सुरक्षित चुनाव कराने को लेकर चुनाव आयोग ने काम शुरू कर दिया है.