प्रदेश से आए बिहारी मजदूरों ने आफत में डाल दिया बिहार को अब तक 300 से अधिक प्रवासी बिहारी कोरोना पॉजेटिव

0
422

जहा कोरोना के वजह से पुरे देश से प्रवासी मजदूर और प्रवासी लोग अपने अपने घर लौट रहे है वही बिहार में भी भरी मात्रा में बिहार से बहार रहने वाले लोग लौट रहे है इन सभी प्रवासी बिहारी को ट्रेन के जरिए उन्हें अपने अपने घर लाया जा रहा है पर अब बिहार के के लिए यह प्रवासी बिहारी ही बिहार को आफत में डाल दिया है प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के बाद पॉजिटिव मरीजों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि हुई है. जिसके बाद बिहार में आए प्रवासी बिहारी ही कोरोना के चपेट में करीब करीब 358 मिली है।

वही अगर कुछ सरकारी आकारों पर नज़र डाले तो 4 मई से लेकर 15 मई की सुबह 10 बजे तक 358 प्रवासी मजदूर कोरोना संक्रमित मिले हैं .स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार की तरफ से जो आंकड़ा जारी किया गया है, उसमें सबसे अधिक दिल्ली से आने वाले प्रवासी मजदूरों में कोरोना पॉजिटिव मिला है. वही राजधानी दिल्ली से आने वाले करीब करीब 115 प्रवासी बिहारी को कोरोना पॉजेटिव पाया गया था वही गुजरात से आने वाले करीब करीब 97 प्रवासी मजदूर को कोरोना था वही महाराष्ट्र से आने वाले 70 बिहारी प्रवासी को कोरोना था ोै हरियाणा 17 .

वही पश्चिम बंगाल से आने वाले करीब करीब 22 प्रवासी मजदूरों में कोरोना पाया गया है उत्तर प्रदेश से आये करीब करीब 14 प्रवासी बिहारी को कोरोना है तेलंगाना से आये करीब करीब चार तमिलनाडु से आए एक राजस्थान से आए 8 बिहारी में कोरोना की पुस्टि हुई है वही पंजाब हरियाणा से आये 3 और 17 कोरोना के मामले मिले है वही अगर बिहार में कुल करना के आकड़े करीब करीब 1000 के पार हो चुके है वही अब तक कुल 5 लोग बिहार में कोरोना से अपनी जान गवा चुके है