राजधानी पटना में गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी, घाट हुआ जलमग्न देखिए

0
167

देखा जाए तो बिहार में अभी कई जिलों में बारिश हो रही है लेकिन मोटे तौर पर देखा जाए तो बिहार में मानसून की बारिश इस बार काम हुई है जिस वजह से बिहार के कई जिलों में सूखा जैसी स्थिति उत्पन्न होने की आशंका है लेकिन उधर बिहार के कई नदियों में उफान तेजी से है बिहार के कई नदियों के जलस्तर तेजी से बढ़ रहे हैं जिस वजह से बिहार के कई जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है।

उधर गंगा के जलस्तर में अब कमी दर्ज की जा रही है लेकिन अब भी यह कहा जा रहा है कि अगले 2 दिनों में एक बार फिर से गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी देखी जा सकती है। राजधानी पटना में गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी होने की वजह से पटना के कई घाट जैसे एनआईटी सहित पटना के कई घाट डूब चुके हैं।

उधर गंगा की जलस्तर बढ़ने की वजह से गंगा किनारे बसे शहर और गांव की चिंता बढ़ गई है पटना जिला प्रशासन ने यह भी जानकारी दी है कि बाढ़ के खतरे पर लगातार नजर रखी जा रही है प्रशासन की ओर से बाढ़ को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। बुधवार की सुबह तक आंकड़ों पर नजर डाले तो आंकड़ों के अनुसार गांधी घाट पर गंगा का जलस्तर खतरे के निशान से 5 सेंटीमीटर नीचे अभी है।

उधर गंगा के जलस्तर बिहार के कई जिलों जैसे हथिया में गंगा का जलस्तर बढ़ा हुआ है और खतरे के निशान से ऊपर है दीघा घाट पर खतरे के निशान 50.45 मीटर है जो की गंगा का जलस्तर 49.65 मीटर है उधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जलस्तर की बढ़ोतरी की वजह से अफसरों को अलर्ट किया है उन्होंने मंगलवार को पटना में गंगा के जलस्तर का जायजा लिया उन्होंने बताया कि सोन नदी के जलस्तर में वृद्धि का असर गंगा पर भी देखने को मिल रहा है।