बिहार में लगेगें उधोग धंधे, होगा 900 करोड रुपए का निवेश जानिए

0
224

कुछ दिन पहले बिहार में एम लएसएमई ने अपना परचम लहराया है। जहां पर बताया जा रहा है कि बिहार ने पूरे देश में दूसरा सबसे ज्यादा एमएसएमई होने पर इसके लिए बिहार उद्योग विभाग को पुरस्कार से नवाजा भी गया है। इसी बीच अब पश्चिम बंगाल व पूर्वोत्तर भारत की कई कंपनियां बिहार में निवेश करने को इच्छुक है। आपको बता दूं कि इन दिनों में लगातार बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन यह प्रयास कर रहे हैं कि बिहार में ज्यादा से ज्यादा उद्योग लग सके इसी दौरान उन्होंने कोलकाता में बिहार इन्वेस्टमेंट मीट का आयोजन किया जहां पर कई बड़े उद्योगपति शामिल थे।

आपको बता दूं कि पश्चिम बंगाल को पूर्वोत्तर भारत के कई कंपनी बिहार में निवेश करने का इच्छा जाहिर किया है। इसमें केवेंटर्स एग्रो 600 करोड़ वही जीआईएस ग्रुप 300 करोड़ का निवेश बिहार में करेगी। इसके अलावा टीटी लिमिटेड भी बिहार में निवेश करने की इच्छा जाहिर की है। दरअसल बता दूं कि यह सभी कंपनियां कोलकाता में बिहार इन्वेस्टमेंट मीट में शिरकत की थी जिसके बाद उन्होंने बिहार में निवेश करने का भरोसा जताया है।

आपको बता दो कि कोलकाता में हुए बिहार इन्वेस्टमेंट मीट में कई बड़ी कंपनियां शामिल हुए जिसमें कोलकाता मीट में केंवेंटर्स एग्रो, रुपा एंड कंपनी, टीटी लिमिटेड, सेंचुरी प्लाई, अंबुजा ग्रुप, एमपी बिरला ग्रुप, टीएम इंटरनेशनल, वेस्टकॉम लॉजिस्टिक्स, फेनेशिया ग्रुप, सारनॉक हॉस्पिटल, एएमआई हॉस्पिटल, बंगाल नेस्टर्स इंडस्ट्रीज, वाशरबेरी टी कंपनी, विदित ग्रुप आदि कंपनियां शामिल थी।