बिहार में टाटा की मदद से 60 ITI बनेगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस काम हुआ शुरू जानिए

0
876

बिहार में अब आपको जल्द ही आईटीआई कॉलेज और भी हाईटेक आने वाले दिनों में देखने के लिए मिलेगा। क्योंकि अब बिहार के आईटीआई कॉलेज को टाटा की मदद से हाईटेक बनाया जाएगा। आपको बता दो की इन आईटीआई कॉलेज को हाई टेक बनाने को लेकर प्रक्रिया को अभी फिलाल प्रारंभ कर दिया गया है, जहां पर टाटा की मदद से बिहार के करीब 60 आईटीआई कॉलेज को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाने को लेकर विशेषज्ञों ने काम शुरू कर दिया है।

खबर के अनुसार बताया जा रहा है, कि सभी 149 औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था आईटीआई कोर्स सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाने के लिए 5436 करोड रुपए की योजना अभी फिलहाल बनाई गई है। जिसमें से पहले चरण में 60 आईटीआई कॉलेज को बिहार सरकार संयुक्त रूप से दो हजार दो सौ करोड़ रुपए निवेश करेगी इस योजना में डाटाटेक 88 प्रतिशत और सरकार की तरफ से 12 प्रतिशत हिस्सेदारी रहेगी। अभी फिलाल पहले चरण में राज्य के साथ राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान यानी कि आईटीआई को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाने का काम शुरू हो चुका है।

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (ITI) के सेंटर आफ एक्सीलेंस बनाए जाने के बाद 23 नए एडवांस कोर्स संचालित किए जाएंगे, जिनमे , फैशन टेक्नोलाजी, आटोमोबाइल्स टेक्नोलाजी, कार पेंटिंग, आटोबाडी रिपेयर, वेल्डिंग, प्लास्टिक डाई इंजीनियरिंग, , रोबोट सिस्टम इंटीग्रेशन, एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग, डिजिटल कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रानिक्स, इलेक्ट्रिकल इंसटालेशन, ड्रोन टेक्नोलाजी, सीएनसी मिलिंग, सीएनसी टर्निंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग डिजायन, रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग, मोबाइल रोबोटिक्स, मेकाट्रोनिक्स, इंडस्ट्रियल कंट्रोल, वाटर टेक्नोलाजी, आइटी साफ्टवेयर साल्यूशन फार बिजनेस, वेब टेक्नोलाजी,