बिहार झारखंड के बीच सफर होगा और भी शानदार चलाई जाएगी 5 हजार बस

0
758

अगर आप ही बिहार और झारखंड के बीच सफर करते हैं या बिहार से झारखंड हमेशा आते जाते हैं तो आपके लिए यह सफ़सर और भी आरामदायक होने वाला है। आपको बता दूं कि खबरों के अनुसार बताया जा रहा है कि बिहार से झारखंड के बीच करीब 5000 बसों का परिचालन आने वाले समय में किया जाएगा। वही जिस 5000 बसों का परिचालन करीब करीब 200 रूटों पर किया जाना है।

ताजा आंकड़ों पर नजर डाले तो अभी सिर्फ बिहार से झारखंड के बीच 1253 बसों का ही परिचालन होता है। ऐसे में 4907 और बसें चलाने की संभावना है। आपको बता दूं कि बिहार से झारखंड के बीच जाने वाले यात्रियों को पर्याप्त मात्रा में बस नहीं मिलने पर आने जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं दूसरी तरफ बसों के परिचालन के लिए निजी बस संचालक विभाग में आवेदन भी मांगी गई है 13 जून तक आवेदन मांगा गया है इस तिथि के बाद मिलने वाले आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा।

वहीं अगर खबर पर एक नजर डाले तो बताया जा रहा है कि रांची से पटना के बीच 500 बसें चलाई जाएंगी। वही अभी अगर आंकड़ों पर नजर डाले तो रांची से पटना के बीच महज 36 बसों का परिचालन किया जा रहा है। इसी तरह पटना से टाटा के लिए 200 वर्षों का परिचालन किया जा सकता है। वहीं पटना से टाटा के बीच अभी 44 वर्षों का ही परिचालन हो रहा है इसके अलावा पटना से हजारीबाग के लिए 75 में से 62 कोई पटना से डाल्टनगंज के लिए 50 में से 44 बसों का संचालन हो रहा है।