बिहार के इन रूट पर रेलवे पर खर्च होगा 500 करोड़ जानिए क्या है प्लान

0
660

बिहार में रेलवे को और भी मजबूत करने के लिए और बेहतर कनेक्टिविटी करने के लिए बिहार में रेलवे 500 करोड़ रुपए खर्च करेगी, पूर्वोत्तर बिहार के लिए लाइफलाइन माने जाने वाली अररिया से गलगलिया से सुपौल रेल लाइन का विकास किया जाएगा। खबर के अनुसार बताया जा रहा है कि वित्तीय वर्ष 2022 से 2023 में करीब 500 करोड रुपए खर्च इन रेलवे लाइनों का विकाश किया जाएगा। ताकि रेलवे की कनेक्टिविटी और भी बेहतर हो सके और यात्रियों को इसका और लाभ मिल सके।

खबरों में बताया जा रहा है, कि इस परियोजना के लिए जमीन अधिग्रहण का काम लगभग पूरा हो चुका है बाकी बची जमीन अधिग्रहण का काम तेजी से किया जा रहा है उधर रेलवे मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस पूरी परियोजना की जानकारी दी है।

आपको बता दूं कि परियोजना के अनुसार बताया जा रहा है कि सुपौल से अररिया के बीच कुल 92 किलोमीटर इसके साथ-साथ अररिया से गलगलिया के बीच कुल 111 किलोमीटर और अररिया से गलगलिया रेल लाइन परियोजना का काम शुरू भी कर दिया गया है। आपको बता दूं कि इस पूरी परियोजना की लागत को 2132 करोड़ है जिसमें से अभी तक सिर्फ एक हजार करोड़ के आसपास खर्च हो चुका है।

उधर अररिया से सुपौल के बीच भी काम अपने प्रगति पर है जहां पर बताया जा रहा है कि 1605 करोड रुपए इस परियोजना पर खर्च किए जाएंगे। जहां पर इस परियोजना पर 705 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होना है। अभी इस परियोजना में सुपौल से पिपरा के बीच भी काम प्रारंभ हो गया है। और जल्दी इसका काम भी पूरा कर लिया जाएगा।