पटना में बन कर तैयार हुआ गंगा रिसर्च सेंटर व म्यूजियम, बना आकर्षण का केंद्र जानिए कहां हुआ निर्माण क्या है खास

0
658

बिहार के लोगों को जल्द ही खूबसूरत और शानदार गंगा रिसर्च सेंटर का सौगात मिलने वाला है, दरअसल आपको बता दूं कि बिहार में रिसर्च सेंटर व म्युसियम का निर्माण पूरा कर लिया गया है। इस शानदार और खूबसूरत गंगा रिसर्च सेंटर को गंगा किनारे करीब करीब 336 करोड़ की लागत से बनाया गया है, जो अपने आप में बिहारी खास है।

शानदार खूबसूरत गंगा रिसर्च सेंटर का निर्माण बिहार की राजधानी पटना में किया गया है। आपको बता दूं कि इस रिसर्च सेंटर व म्युसियम का निर्माण राजधानी पटना के कलेक्ट्रेट घाट पर किया गया है। इस रिसर्च सेंटर व म्युसियम का निर्माण राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के तहत हुआ है। इसे गंगा म्यूजियम के नाम से भी जाना जाएगा नमामि गंगे योजना के तहत करीब करीब 1050 करोड़ रुपए दिए गए थे। जिसमें से 336 करोड रुपए से इस शानदार गंगा रिसर्च सेंटर व म्युसियम का निर्माण हुआ है.

आपको बता दूं कि यह गंगा रिसर्च सेंटर देखने में बेहद खूबसूरत है, जैसी ही आप इस गंगा रिसर्च सेंटर व म्युसियम के सामने आएंगे आपको बड़ी सी बोर्ड पर गंगा रिसर्च सेंटर दिखा दिखेगा। वही गंगा रिसर्च सेंटर व म्युसियम गंगा के किनारे बनाया गया है। जहां पर एक तरफ गंगा नदी है, वहीं दूसरी तरफ इस शानदार गंगा रिसर्च सेंटर का निर्माण किया गया है। वहीं गंगा रिसर्च सेंटर व म्युसियम के अंदर दाखिल होते ही आपको खूबसूरत म्यूजियम देखने के लिए मिलेगा जहां पर आपको बिहार के प्रमुख दर्शनीय स्थलों की जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा इस गंगा रिसर्च सेंटर के अंदर आपको पुस्तकालय बैठने की जगह एमपी थिएटर बनाया गया है आपको यह ऑडियो और वीडियो भिजुअल के तौर पर गंगा संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध होगी.

इसके साथ-साथ गंगा में पाई जाने वाली डॉल्फिन की भी जानकारी आपको इस गंगा रिसर्च सेंटर के अंदर ही दी जाएगी  जहाँ पर डॉल्फिन का मॉडल बनाया गया है, जो लोगों का ध्यान आकर्षित करेगा।  गंगा रिसर्च सेंटर व म्युसियम के बाहर आपको बैठने की जगह भी दी गई है, जहां पर आपको खूबसूरत अलग-अलग तरह के और बैठने की जगह है, जहां पर आप अपने परिवार के साथ बैठ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here