पटना एयरपोर्ट पर कैप्टन मोनिका खन्ना की सूझबूझ से 185 यात्रियों की जान बची, जानिए इनकी बहादुरी की कहानी

0
218

राजधानी पटना का पटना एयरपोर्ट कल एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया जहां पर करीब 185 यात्रियों की जान बची। आपको जानकारी के लिए बता दूँ की इन 185 यात्रियों की जान बचाने के पीछे एक बहादुर एटीएस कंट्रोलर का हाथ है। आपको तक मोनिका खन्ना ट्रैफिक कंट्रोलर की चीज कंट्रोलिंग अफसर संचालन करते है इसके साथ साथ एटीएस व पायलट इन कमांड भी है।

आपको बता दें कि मोनिका खन्ना बहुत ही बहादुर है। उन्होंने मुश्किल समय पर इन्होने ना केवल यात्रियों का हौसला बढ़ाया बल्कि उन्होंने एटीएस कंट्रोल संचालन के साथ संवाद कर के उन्होंने विमान को तुरंत उतारने का निर्णय भी लिया था और यह भी रोचक बात है की विशेषज्ञ बताते हैं कि डीजीसीए की जांच में कॉकपिट और एटीसी के बीच संवाद की समीक्षा आने वाले दिनों में विमान उड़ाने वाले पायलटों और उनके लिये राह बनाने वाले एटीसी अफसरों के लिये उदाहरण है।

आपको बता दूं कि जैसी ही विमान में आग लगी इसी बीच कैप्टन मोनिका खन्ना ने विमान के इंजन एटीसी से संवाद कर तत्काल उसे बंद करने का निर्णय लिया। उसके बाद उन्होंने आनन-फानन में बिहटा की ओर से विमान को लौट आया और गायघाट की ओर एक चक्कर लगाकर सुरक्षित लैंडिंग की जिसके बाद विमान में बैठे करीब 185 यात्रियों की उनकी सूझबूझ की वजह से जान बची।