गूगल ट्रांसलेटर में बिहार के इन दो भाषाओं को जोड़ा गया, बिहार के लिए गर्व की बात जानिए

0
535

अब तक आपने कई बार गूगल ट्रांसलेटर का प्रयोग किया होगा, जब भी हम किसी और भाषा में किसी अन्य भाषा को परिवर्तित करना चाहते हैं, तो गूगल ट्रांसलेटर का प्रयोग जरूर करते हैं। आपको बता दूं कि गूगल ट्रांसलेटर में पूरे देश और दुनिया के कई भाषाएं जुड़ी हुई है। जिसमें हिंदी सहित कई अन्य भाषाएं जुड़ी हुई है, लेकिन अब बिहार के दो भाषाओं को भी इस गूगल ट्रांसलेटर में जोड़ दिया गया है। आपको बता दूं कि इन दो भाषा को जोड़ने के बाद बिहार में लोगों के बीच खुशी की लहर है।

आपको बता दूं कि अभी बिहार के कई भाषाएं भोजपुरी, मैथली, मगही, बज्जिका का सहित कई भाषाएं पूरी देश दुनिया में बोली जाती है। लेकिन इससे पहले बिहार का कोई भी भाषा गूगल ट्रांसलेटर में नहीं जुड़ा किया गया था। लेकिन अब बिहार के कुल 2 भाषा भोजपुरी और मैथिली को गूगल ट्रांसलेटर में जोड़ दिया गया है। आपको बता दूं कि अब इसको वैश्विक पहचान दिलाने के लिए गूगल ने अपने ट्रांसलेशन टूल में मौजूद वैश्विक भाषा में अब भारतीय भाषा के रूप में मैथिली और भोजपुरी को जोड़ा है।

आपको बता दूं कि गूगल ट्रांसलेटर टूल में भोजपुरी और मैथिली भाषा को अपने ट्रांसलेशन टूल में शामिल किए जाने के बाद सभी भोजपुरी और मैथिली वासियों के लिए यह गर्व की बात है। आपको बता दूं की भोजपुरी भाषा अब इंटरनेट के लिए काफी उपयुक्त भाषा है। इसकी क्षमता काफी सम्मिलित है। वहीं विश्व के करीब 15 से 17 देशों में आज के समय में भोजपुरी रहते हैं, आपको बता दूं कि भारत में कुल आबादी का पांचवा हिस्सा भोजपुरी भाषी है वही पूरी दुनिया में तीसरा हिस्सा भोजपुरी पड़ता या लिखता है।