इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद ठेले पर शुरू किया बिरयानी का स्टॉल, आज हो रही है अच्छी आमदनी

0
514

भारत में इस समय बड़े स्तर की बेरोजगारी देखने को मिल रही है। हर वर्ष ना जाने कितने लोग कॉलेज से डिग्री लेकर बेकार बैठे हुए हैं। इसके साथ-साथ कई लोग अपने जॉब से भी असंतुष्ट है। लेकिन इसी कड़ी मे हरियाणा के सोनीपत की दूरी इंजीनियर इंजीनियरिंग पूरा करने के बाद ठेले पर बिरयानी बेचते हुए नजर आ रहे हैं जो इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंडिंग बना हुआ है। जहां एक और उन्होंने इंजीनियरिंग करने के बाद स्वरोजगार की ओर कदम बढ़ाया वहीं वह आज तकरीबन दिन के 2 से 3 हजार रुपए कमाकर अपना और अपने परिवार का पालन पोषण कर रहे हैं।

हरियाणा के सोनीपत से आने वाले इंजीनियर्स रोहित और सचिन ने मिलकर एक वेज बिरयानी बिजनेस शुरू किया और सड़क के किनारे एक ठेला लगाया। जिसके बाद पूरे इलाके में इन दोनों की चर्चाएं होने लगी। शुरू में परिवार ने विरोध किया लेकिन जब परिवार ने देखा कि स्वरोजगार से भी अच्छी कमाई हो रही है तो उन्होंने उनका साथ दिया। दूसरी ओर उन्होंने बताया कि किसी कंपनी में 10000 की नौकरी करने से बेहतर अपना कारोबार शुरू करना है। सबसे खास बात यह है कि अपने इस स्टॉल का नाम दोनों ने इंजीनियरिंग वेज बिरयानी रखा। इसके साथ-साथ वर्तमान समय में यह दोनों ठेले पर अपनी यह स्टाल लगा रहे है।

बता दें कि बिरयानी स्टॉल के मालिक रोहित जहां पॉलिटेक्निक का छात्र था, वहीं सचिन ने बी टेक की पढ़ाई की थी। हालांकि, उन्होंने अपनी नौकरी से असंतुष्ट होने के बाद बिरयानी बेचने का फैसला किया। अब दावा करते हैं कि वे खुश महसूस करते हैं और उनका नया बिजनेस अच्छी कमाई दे रहा है। केले के स्टॉल से रोजाना 4 हजार रुपए से ज्यादा की कमाई हो जाती है और महीने में एक लाख 20 हजार रुपए से ज्यादा की आमदनी हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here